अभिशाप…

किसिके हवस की आग ना बुझा सकीतो उसे जला दिया जाता हैजब भी बात तेरे हवस की आती हैतो तेरा सो कॉल्ड धरम कहा चला जाता है उसे तो देवी समान माना करते हो तुमफिर क्यु उसे ईस्तेमाल करणे को सामान बनाया जाता हैमाँ के घर वो पराया धन केहेलातीवही पती के घर पराये घर […]

Read More